oooo

हाल ही सायंटिस्ट्स द्वारा किए एक शोध में सामने आया है कि जो महिलाएं अक्सर ऑर्गैज़म फील करने की बात स्वीकारती हैं, उनके द्वारा अपने पार्टनर को चीट करने की संभावना कहीं ज्यादा होती है। शोध में यह बात भी सामने आई है कि फेक ऑर्गैज़म की बात कहने वाली महिलाओं के अपने पार्टनर से अच्छे संबंध नहीं होते। साथ ही शोध में सामने आया कि बेहतर सेक्शुअल रिलेशन के लिए बेहतर भावनात्मक संबंध जरूरी हैं।

यंग महिला-पुरुषों पर किए गए इस सर्वेक्षण में महिलाओं से प्रमुखता से यह सवाल किया गया कि वह औसतन कितनी बार ऑर्गैज़म फील करती हैं। तो पुरुषों के लिए प्रमुख सवाल यह रहा कि उन्हें कितनी बार महसूस होता है कि उनकी पार्टनर ऑर्गैज़म पर पहुंच चुकी है।

हालांकि शोधार्थियों ने दावा किया है कि जिन महिलाओं को ऑर्गैज़म कभी-कभार ही फील होता है, उनके द्वारा अपने पार्टनर को चीट करने की संभावना न के बराबर होती है। वहीं, ज्यादा ऑर्गेज़म की बात करने वाली महिलाएं इस श्रेणी में ऊपर रहीं।

शोधार्थियों के मुताबिक, जो महिलाएं कभी-कभार ही ऑर्गैज़म फील करती हैं, उनकी संतुष्टि के सबसे बड़े कारण के रूप में उनके अपने पार्टनर से अच्छे संबंध सामने आए हैं। शोध में सामने आया है कि पुरुषों द्वारा अपनी पार्टनर के साथ किया जाने वाला व्यवहार ही इस बात के लिए जिम्मेदार होता है कि उनकी पार्टनर उनके साथ बफादार रहेगी या नहीं।

http://rozwala.online/wp-content/uploads/2018/06/cccccccccc.jpghttp://rozwala.online/wp-content/uploads/2018/06/cccccccccc-150x150.jpgnation_firstUncategorizedहाल ही सायंटिस्ट्स द्वारा किए एक शोध में सामने आया है कि जो महिलाएं अक्सर ऑर्गैज़म फील करने की बात स्वीकारती हैं, उनके द्वारा अपने पार्टनर को चीट करने की संभावना कहीं ज्यादा होती है। शोध में यह बात भी सामने आई है कि फेक ऑर्गैज़म की बात कहने...ROJWALA
loading...